कौमी पत्रिका

नई दिल्ली: 10 जून, 2021 आज  इस साल का पहला सूर्य ग्रहण लगने वाला है. यह ग्रहण एक ‘रिंग ऑफ फायर’ या वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा. यानी ग्रहण के समय कुछ हिस्सों में रिंग ऑफ फायर (Ring of Fire) बनती हुई नजर आएगी. सूर्य ग्रहण के दौरान चंद्रमा सूर्य के लगभग 97 प्रतिशत हिस्से को कवर करेगा. हालांकि, भारत में यह सूर्य ग्रहण न के बराबर ही सिर्फ कुछ हिस्सों में दिखेगा. बता दें कि इस साल का यह दूसरा ग्रहण है. इससे पहले 26 मई को चंद्र ग्रहण लगा था और 15 दिन के भीतर आज सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है. ग्रहण के दौरान रिंग ऑफ फायर उस वक्त बनती है जब चंद्रमा, सूरज से अधिक दूरी पर होने के कारण उसे पूरी तरह से ढक नहीं पाता है. ऐसे में चंद्रमा से केवल सूरज का बीच का हिस्सा ही ढक पाता है और बीच के हिस्से की रोशनी पृथ्वी तक नहीं पहुंच पाती है. इस स्थिति में केवल साइडो से ही सूरज की रोशनी पृथ्वी से दिखाई देती है. जब सिर्फ साइडो से ही सूरज की रोशनी पृथ्वी पर पड़ती है तो उसे रिंग ऑफ फायर  कहा जाता है.

Related posts

देशभर में लैंडलाइन से कॉल करने के लिए ग्राहकों को अब 1 जनवरी से नंबर से पहले 0 (जीरो/शून्य) लगाना अनिवार्य होगा

अरुण जेटली की जयंती पर PM मोदी, अमित शाह समेत बीजेपी नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

कोरोना वैक्सीन आने में ज्यादा देर नहीं, लेकिन सावधानी अब भी जरूरी- PM MODI ?

Leave a Comment